+91 9810398128

info@pridemybaby.com

+91 9810398128

a9@urag@gmail.com 0 items - $0.00

बच्चों की देखभाल के इन अजीब रिवाजों को जानकार चौंक जाएंगे आप

बच्चों की देखभाल के इन अजीब रिवाजों को जानकार चौंक जाएंगे आप


परिवार में बच्चे का जन्म खुशियों की नयी बहार और सौगात ले कर आता है। इस खुशी को बनाए रखने के लिए उनका पहला प्रयास होता है अपने बच्चे की देखभाल इस प्रकार करी जाए जिससे वो एक स्वस्थ और हँसता-खेलता रहे। इसमें बुरी नज़र से बचाने के लिए किए गए अलग-अलग प्रयास से लेकर उसके खाने -पीने की आदतों को सही करना और खेलना या न खेलना आदि शामिल है।

शायद आपको लगता है की बच्चे की देखभाल करना सिर्फ माता-पिता का ही कर्तव्य है और विदेशों में ऐसा कुछ नहीं होता है। तो आप यहाँ पूरी तरह से गलत है। वास्तविकता तो यह है की विश्व के हर कोने में सरकार भी इस काम में परिवार का सहयोग करती है। उनका मानना है बच्चे को नज़र से बचाना ही नहीं बल्कि उनके सर्वांगीण विकास के लिए किए जाने वाले विभिन्न काम उनकी देखभाल का ही एक ज़रूरी हिस्सा है जिसको पूरा करना सबका कर्तव्य है। शायद आप हमारी इस बात से सहमत न हों तो आइये आपको दुनिया के अलग-अलग कोने में बच्चों के देखभाल के अजब-गज़ब तरीके बताएं:

 

  1. करामाती डिब्बा:

क्या आप जानते हैं की फ़िनलैंड में बच्चों की मृत्यु दर काफी अधिक है। उसको कम करने के लिए सरकार की ओर से हर नवप्रसूता को एक डिब्बा मिलता है जिसमें बच्चे की ज़रूरत का सारा सामान होता है। कुछ माता-पिता अपने बच्चे को इस डिब्बे में टोटके के रूप में रखते हैं जिससे उसकी आयु लंबी हो।

 

  1. नज़र न मिल जाए कहीं:

केन्या में माँ को अपने बच्चे से नज़र मिलाने का डर लगता है की कहीं उसी की नज़र न लग जाए , इसलिए वो उसको हर समय इस तरह पीठ पर रखती है जिससे वो अपने बच्चे को देख न सके।

 

  1. पैर न ज़मीन पर रखो :

बाली देश में नवजात शिशु 105 दिनों तक परिवार के बड़े सदस्यों के हाथ में ही रहता है। उसे ये दिन पूरे होने पर ही ज़मीन पर खड़ा किया जाता है जिससे उसे पहले शुद्ध किया जा सके।

 

  1. ठंडे-ठंडे पानी से नहाना चाहिए:

माया देश में माँ अपने बच्चे को अच्छी नींद सुलाने के लिए और शरीर के तापमान को सही रखने के लिए ठंडे पानी से नहलातीं हैं ।

 

  1. खबरदार, जल्दी न सोना:

स्पेन में माना जाता है की  बच्चों के सही विकास के लिए उनका जल्दी सोना गलत है ।

 

  1. चलो , ट्रेनिंग शुरू :

चीन के नवजात बच्चों की पौटी ट्रेनिंग हास्पिटल से घर आते ही शुरू हो जाती है।

 

  1. कुछ भी खाने से न छूटे :

फ्रांस के माता-पिता अपने बच्चों को खाने के लिए सब कुछ देते हैं।

 

  1. अकेले हम अकेले तुम:

जापान के परिवार में बच्चे अपना हर काम स्वयं करते हैं, इसमें उन्हें परिवार का सहयोग नहीं मिलता है ।

 

  1. साथी, साथ खेलना


Hot Posts

Related Posts